एलएनएमयू में पहली बार होगा पुरातन छात्रों का सम्मेलन : कुलपति

दरभंगा संवाददाता : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय में पहली बार पुरातन छात्रों का सम्मलेन आयोजन किया जा रहा है. जिसमे नेपाल के पूर्व उपराष्ट्रपति परमानन्द झा सहित दो दर्जन विदेशी पुरातन छात्र भाग लेंगे.कुलपति प्रो. सुरेन्द्र कुमार सिंह ने आज संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि पुरातन छात्रों का सम्मेलन 26 फरवरी को होगा. प्रो सिंह ने कहा कि किसी संस्था के विकास की रीढ़ पुरातन छात्र होते हैं, अगर उनसे संपर्क और सम्बन्ध नहीं होगा तो विश्वविद्यालय का विकास नहीं होगा. पुरातन छात्र और विश्वविद्यालय के बीच भावनात्मक एवं अपनेपन का अदृश्य समबन्ध होता है जो अटूट होता है.उन्होंने कहा कि 1972 में इस विश्वविद्यालय की स्थापना हुई थी,लेकिन आज तक पुरातन छात्रों का सम्मलेन कभी नहीं हुआ. अभी तक लाखो छात्र- छात्राएं इस विश्विद्यालय से उतीर्ण होकर जगह-जगह प्रतिस्थापित है. हजारों छात्र-छात्राएं देश-विदेश के विभिन्न संस्थानों में उच्च पद पर विराजमान है. उन्होंने कहा की विश्वविद्यालय पुरातन छात्रों को लेकर काफी गंभीर है. इसको लेकर दो तरह की योजनायें बनायीं है. एक तरह की योजना में परिसर में लाकर उनके सम्बन्ध को पूर्नस्थापित करना. वही दूसरी उनके ही जगहों पर जाकर पुरातन सम्मलेन का आयोजन करना. इस तरह के सम्मलेन करने का प्रस्ताव होने वाले पुरातन सम्मलेन में रखा जा रहा है, अगर यह पारित हो गया तो परिसर से बहार भी इस तरह के सम्मलेन का आयोजन किया जायेगा. यह कार्यक्रम दो सत्रों में सम्पादित होगा. पहले सत्र में स्मारिका का विमोचन किया जाएगा और विशिष्ठ अतिथियों का जो यहां के पुरातन छात्र हैं का अभिनन्दन किया जायेगा. संवाददाता सम्मलेन में पुरातन संघ के अध्यक्ष प्रो. अरुणिमा सिंह, महासचिव डॉ. विजय मिश्र, सचिव डॉ. अनीस अहमद, मिडिया कोषांग के सयोजक प्रो. विनय कुमार चौधरी, वाणिज्य विभागाध्यक्ष प्रो. बी. बी. एल. दास, पी. आर. ओ. डॉ. एन. के. अग्रवाल संगीत विभागाध्यक्ष डॉ. लावण्या कीर्ति सिंह काव्या, डॉ. दिवाकर झा आदि उपस्थित थे.

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *