दसवीं की परीक्षा 21 फरवरी से शुरू, 17.70 लाख परीक्षार्थी होंगे शामिल

न्यूज डेस्क।
पटना।

बिहार बोर्ड के दसवीं की परीक्षा 21 फरवरी, 2018 से शुरू हो रही है। इसे लेकर सभी तैयारियां पूर कर ली गई है। छात्रों को प्रवेश पत्र दे दिया गया है। परीक्षा केंद्रों की सुरक्षा के व्यवस्था किए गए हैं। वीडियोग्राफी के जरीए भी निगरानी रखी जाएगी। बिहार में इस बार मैट्रिक परीक्षा देने वाले परीक्षार्थियों के साथ-साथ इस बार उनके केन्द्र के वीक्षक और केन्द्राधीक्षक और अन्य चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों की भी परीक्षा होने वाली है। इंटर परीक्षा से सीख लेते हुए बिहार बोर्ड ने कई नए फरमान जारी किए हैं, जिनसे पूरी परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों, केन्द्राधीक्षक, वीक्षक और चपरासी तक को अच्छी-खासी मशक्क्त करनी पड़ेगी। 21 फरवरी से 28 फरवरी तक चलने वाली मैट्रिक परीक्षा के दौरान ना सिर्फ मोबाइल और अन्य इलेक्ट्रोनिक गैजेट को प्रतिबंधित किया गया है, बल्कि परीक्षार्थियों के जूता-चप्पल पहनने पर भी रोक लगा दी गई है। परीक्षार्थियों के साथ-साथ परीक्षा केन्द्र पर उपस्थित किसी भी व्यक्ति को फोन रखने की सख्त मनाही है। यही नहीं केन्द्राधीक्षक के लिए भी स्मार्ट फोन की बजाय साधारण फोन रखने के निर्देश जारी किए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2018 का आयोजन राज्य के 1426 परीक्षा केंद्रों पर किया जा रहा है। 21 से 28 फरवरी तक होने वाली परीक्षा दो पालियों में लिया जाएगा। जिसमें लगभग 17.70 लाख परीक्षार्थी शामिल होंगे। इस परीक्षा के लिए पटना जिले में कुल 74 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जिसपर दो पालियों में 82.50 हजार से भी अधिक परीक्षार्थी शामिल होंगे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *