सर्व शिक्षा अभियान से संस्कृत को जोड़ने की जरूरत : गोपालजी

दरभंगा, रतन झा : कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय में चल रहे शास्त्रार्थ कार्यक्रम के दूसरे दिन चन्द्रग्रहण व अहर्गण पर शास्त्रार्थ हुआ. इस अवसर पर मुख्य अतिथि के पद से बोलते हुए भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्व विधायक गोपालजी ठाकुर ने अपने संबोधन में कहा कि संस्कृत की रक्षा कर ही हम अन्य भाषाओं को विकसित कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि राज्य का एकलौता विश्वविद्यालय यह है. इसे केन्द्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा मिलना चाहिए. इसके लिए उन्होंने हर संभव मदद का भरोसा दिलाया. इस अवसर पर उन्होंने संस्कृत को सर्व शिक्षा अभियान से जोड़ने की जरूरत बताया, ताकि इस भाषा को भी सर्वग्राह बनाया जा सके. उन्होंने कहा कि मिथिला और संस्कृत विश्वविद्यालय मिलकर प्रयास करें, तो यहां राष्टÑीय स्तर का खेल मैदान तैयार किया जा सकता है जिसका फायदा युवाओं को मिलेगा. विशिष्ट अतिथि के पद से बोलते हुए भाजपा विधायक संजय सरावगी ने कहा कि संस्कृत और संस्कृति के मामले में मिथिला का गौरवशाली इतिहास रहा है. यहां सैकड़ों वर्षों से शास्त्रार्थ होता था. लेकिन खत्म हो चुकी इस परम्परा को संस्कृत विश्वविद्यालय ने दूबारा शुरू किया है इसके लिए वे बधाई के पात्र है. श्री सरावगी ने कहा कि संस्कृत वक्ताओं को ही कॉलेज में बहाली होनी चाहिए. उन्होंने अपने संबंध में कहा कि शास्त्रार्थ होने के बारे में सिर्फ पढ़ा था या फिर पंडितों से सुना था, लेकिन आज वे यहां देख और सुन रहे हैं. विश्वविद्यालय के जनसम्पर्क पदाधिकारी निशिकांत प्रसाद सिंह ने शास्त्रार्थ के विषय में जानकारी देते हुए कहा कि आज के शास्त्रार्थ के पहले सत्र में चन्द्रग्रहण पर शास्त्रार्थ हुआ. शास्त्रार्थी भोपाल के प्रो. हंसधर झा व लखनऊ के प्रो. मदन मोहन पाठक के बीच हुआ. कार्यक्रम का पर्यवेक्षण प्रो. शिवकांत झा एवं डॉ. बौआनन्द झा ने की. जबकि अध्यक्षता पूर्व कुलपति प्रो. रामचन्द्र झा ने किया. दूसरे सत्र में भी यही लोग अहर्गण नयनम् पर अपने-अपने विचार रखे. कार्यक्रम की शुरूआत डॉ. विदेश्वर झा के मंगलाचरण से हुआ. पूरे कार्यक्रम के दौरान कुलपति प्रो. सर्वनारायण झा, प्रति-कुलपति प्रो. चन्देश्वर प्रसाद सिंह, पूर्व कुलपति प्रो. देवनारायण झा, समन्वयक डॉ. दिलीप कुमार चौधरी, डॉ. श्रीपति त्रिपाठी, डॉ. घनश्याम मिश्र, डॉ. हरेन्द्र किशोर झा, डॉ. नन्दकिशोर झा, डॉ. सत्यवान कुमार झा सहित कार्यकारिणी के सदस्य मौजूद थे.

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *