स्वामी विवेकानंद के जयंती को ABVP ने दिया अनोखा रूप

सोमू कर्ण।
दरभंगा,12 जनवरी।

शुक्रवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद बिरौल इकाई द्वारा स्वामी विवेकानंद जी के 155वें जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय युवा दिवस के उपलक्ष में एक विशाल शोभायात्रा का आयोजन किया गया शोभा यात्रा सुपौल बाजार के बस स्टैंड के समीप भगत सिंह चौक से निकाला गया जो कि बिरौल बिजली ऑफिस होते हुए जनता कोशी महाविद्यालय बिरौल के समीप आकर समाप्त हुआ इस शोभायात्रा के दौरान सैकड़ो युवा भारत माता की जय वंदे मातरम स्वामी विवेकानंद जी अमर रहे स्वामी विवेकानंद का क्या संदेश सुंदर सुहाना भारत देश आदि नारों के उद्घोष करते हुए सभी युवा वर्ग के लोग महाविद्यालय के समीप पहुंचे इस शोभा यात्रा निकालने से पूरे क्षेत्र के आम लोगों के बीच स्वामी विवेकानंद के संदेश को युवाओं के द्वारा पहुंचाने में सफलता मिली शोभा यात्रा निकाले जाने को लेकर शुरू से ही युवाओं में एक अलग प्रकार का ही उत्साह देखने को मिला इस शोभायात्रा में बाजार के कई व्यवसायी समाजसेवी तथा कई नगरवासी शामिल हुए शोभा यात्रा के समापन के पश्चात जनता कोशी महाविद्यालय बिरौल के समीप विश्वास भवन में स्वामी विवेकानंद के तस्वीर पर माल्यार्पण क्या गया तथा एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया संगोष्ठी के दौरान युवाओं को संबोधित करते हुए विद्यार्थी परिषद के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य तथा बिरौल प्रखंड प्रभारी सूरज मिश्रा ने कहा कि विद्यार्थी परिषद विश्व का सबसे बड़ा छात्र संगठन है जिस संगठन में छात्र के भविष्य के नव निर्माण एवं राष्ट्र के नव निर्माण कैसे हो युवाओं को सिखाया जाता है यह संगठन भारत युवाओं को अंदर राष्ट्रवाद की भावना जागृत करती है वही उन्होंने आगे कहा कि विद्यार्थी परिषद का गठन स्वामी विवेकानंद जी के विचारों के आधार पर ही किया गया है। वही संगठन के सक्रिय कार्यकर्ता निलेश कुमार सोनी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि विद्यार्थी परिषद युवा तथा समाज को सही दिशा में ले जाने के लिए प्रेरित करती है विद्यार्थी परिषद् एक ऐसा छात्र संगठन है जो राष्ट्र हित की बात करती है इसे किसी भी राजनीतिक दल या संगठन से कोई मतलब नहीं है इसलिए युवाओं को विद्यार्थी परिषद से जुड़ना चाहिए और अपने उज्जवल भविष्य के नवनिर्माण में आगे बढ़ना चाहिए उन्होंने आगे कहा कि स्वामी विवेकानंद भारतीय सभ्यता के एक प्रमुख संरक्षक भी हैं इसलिए प्रत्येक वर्ष उनके जयंती को हम लोग राष्ट्रीय युवा दिवस के रुप में मनाते हैं। वही बैठक को संबोधित करते हुए शिक्षक अमरेश कुमार ने कहा कि प्रत्येक युवा के स्वामी विवेकानंद के विचारों पर चलकर अपने उज्जवल भविष्य की निर्माण करना चाहिए तथा अपनी सभ्यता और संस्कृति की रक्षा करने के लिए स्वामी जी के विचारों का अनुसरण करना चाहिए। जबकि शिक्षक केशव चौधरी ने कहा कि वर्तमान आधुनिक युग में स्वामी विवेकानंद के विचारों पर चलकर ही हम अपने भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति की रक्षा कर सकते हैं हमें उनके विचारों पर चलकर समाज के नवनिर्माण में हाथ बंटाना चाहिए। शिक्षक संतोष साहु ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद वह महापुरुष हैं जिन्होंने ना सिर्फ देश में बल्कि विदेश में भी भारतीय सभ्यता और संस्कृति का लोहा मनवाया। वही शिक्षक रोशन कुमार ने स्वामी विवेकानंद जी के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहां की स्वामी जी हम सभी भारतवासी के मार्गदर्शक है तथा हम युवाओं के प्रेरणास्त्रोत हैं, अतः हम सभी को उनके विचारों पर चलकर अपने उज्जवल भविष्य की कामना करनी चाहिए। जबकि प्रोफेसर राजकुमार यादव शिक्षक मोहम्मद फैसल नीरज अग्रवाल नवीन मासूम आदि ने भी युवाओं को संबोधित किया। जबकि धन्यवाद ज्ञापन संगठन के सक्रिय कार्यकर्ता धनंजय कुमार झा ने दिया। जबकि इस विशाल शोभायात्रा में सुपौल बाजार के प्रमुख व्यवसायी नीरज अग्रवाल, शिक्षक संतोष साहु, शिक्षक रोशन कुमार, शिक्षक मोहम्मद फैसल, अभिरंजन झा, सोहन कुमार, शुभंकर कुमार, राजा सहनी, दीपक सहनी, पंकज मिश्रा, मुकेश कुमार, राजीव झा, सूरज कुमार, राहुल झा, प्रदीप सहनी, अंकित चौधरी, शुभम राय, सुबोध मंडल, मोहम्मद मुर्शीद, सुभाष झा, सूरज मिश्रा, लालू ठाकुर, केसरी ठाकुर, चंदन साहू, अमित साह, शिवम सिंह, रितिक कुमार, दीपक कुमार, आशुतोष चौधरी, राजकुमार, राकेश, कौशल सहित सैकड़ो युवा शामिल हुए।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *