सीएम योगी से शादी करने वाली को भेजा गया जेल…

सोमू कर्ण।
सीतापुर/उत्तरप्रदेश,10 दिसम्बर।

राजनेताओं से शादी करने को लेकर कई तरह की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होती है, लेकिन इस बार कुछ अजीब ही हुआ है। जी हां उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ सांकेतिक विवाह वीडीओ वाइरल होने के बाद माहौल उथल-पुथल हो गयी। जिसके बाद प्रशानिक मदद से इस हरकत को अंजाम देने वाली महिला राजद्रोह का मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है। इस महिला ने सीएम योगी के काफ‍िले को रोकने का प्रयास किया था।

सीएम योगी आदित्‍यनाथ से अनोखी शादी रचाने वाली नीतू सिंह और उसकी सहेलियों ने मुख्‍यमंत्री के नैमिषारण्‍य आगमन के दौरान सीएम का काफ‍िला रोकने का प्रयास किया। नीतू सिंह और उसकी तीन सहेलियों को जेल भेज दिया गया है। नीतू सिंह के अलावा बाकी दूसरी अन्‍य आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की नेताओं पर गंभीर आरोपों में केस दर्ज हुआ है। भारी सुरक्षा के बीच कल नीतू और उसकी सहेलियों को कोर्ट में पेश किया गया जहां इन चारों को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। इस दौरान कोर्ट के बाहर भारी संख्‍या में आंगबाड़ी कर्मी मौजूद थे। यह सभी नीतू सिंह जिंदाबाद के नारे लगा रहीं थी।

मुख्यमंत्री मंत्री के काफिले को रोकने की कर रही थी कोशिश…
आपको बताते चलें कि सीएम योगी आदित्यनाथ के नैमिषारण्य आगमन पर नीतू सिंह शादी का जोड़ा पहन अपनी सहेली सविता वर्मा, मंजू बंसवार व संतोष कुमारी के साथ सीएम के काफिले को रोकने की कोशिश की थी। इस मामले में कई धाराओं में केस दर्ज है साथ ही कुछ दिन पूर्व हाइवे जाम को लेकर शहर कोतवाली में राजद्रोह का भी केस दर्ज हुआ था।

क्या है मामला….

लंबे समय से आंगनबाड़ी कर्मी अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन कर रही थीं। अपनी मांगों के समर्थन में सरकार का ध्‍यान आकर्षित कराने के मकसद से नीतू सिंह और बाकी आंगबाड़ी कर्मियों ने इस सांकेतिक शादी का तरीका अपनाया। इन लोगों का कहना है कि तकरीबन 2 महीने से वेतन बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। काफी लंबे समय से हम अपनी 15 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। सरकार पर लेकिन इसका कोई असर नहीं पड़ रहा है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *