हैवान पिता अपने ही बेटी को बनाया हवस का शिकार

सोमू कर्ण।
पटना,09 दिसम्बर।

हैवानियत कई हदें पार कर रही है, पिता एक ऐसा शब्द है जिसे बेटी सुनकर प्रफुल्लित हो उठती है, लेकिन पिता ही हैवान हो जाये तो फिर लोगों को पिता नाम के शब्द से नफरत हो जाएगी। एक ऐसी घटना जिससे पूरे बिहार को पूरी तरह झकझोर दिया है। गर्दनीबाग थाने के भीखाचक नहर पर पिता ने 13 वर्षीय नाबालिग बेटी को अपनी हवस का शिकार बना डाला। पीडि़ता के बयान पर आरोपित पिता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

घटना दो दिसंबर की है। पीडि़ता ने अपने बयान में कहा है कि वह भाई के साथ सोयी हुई थी। पिता देर रात कमरे में घुसा। बगल में लेटकर छेड़छाड़ करने लगा। शोर सुन भाई की नींद खुली तो उसे मारपीट कर चुप रहने को कहा। इसके बाद कमरे के बाहर ले जाकर दुष्कर्म किया। सुबह जब उसने पिता की हरकत की बात दादा-दादी को बताई तो उलट में उसे फटकार मिली। इसके बाद मां को सारी बातें बताईं। मां पहले बेटी को लेकर अपने मायके मनेर चली गई। लोकलाज के डर से चुप्पी साध ली, लेकिन बच्ची पिता को सजा दिलाने पर अड़ी रही तो उसके चाचा और चाची ने पुलिस को बताने के लिए मां को राजी कर लिया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *