बिहार: अंतरजातीय विवाह के बाद प्रेमी युगल को सुनाया ये फरमान

सोमू कर्ण।
मुज़फ़्फ़रपुर,05 दिसंबर।

लड़के लड़कियां प्यार में इस तरह पागल हो जाते है कि ना हीं उन्हें समाज की कोई चिंता होती है और न ही अपने पिता की इज्जत की। प्यार के बाद अंतरजातीय विवाह जिसे अभी भी समाज कोई जगह नही देती, ऐसी ही एक घटना मुज़फ़्फ़रपुर बंदरा के मतलूपुर में घटित हुई जहां प्रेमी युगल सिर्फ घर से ही नही बल्कि गांव से भी बेदखल कर दिया गया। एक सामाजिक पंचों की एक पंचायत ने प्रेमी युगल को गांव से बाहर जाने का फैसला सुनाया। इसके बाद वह गांव से बाहर चले गए। वहीं उनके परिजनों ने भी उन्हें पहचानने से इंकार किया। जानकारी अनुसार, घटना शनिवार की है। बताया जाता है कि युवक का गांव के ही लड़की से प्रेम संबंध था और दोनों दीपावली के समय घर से भाग कर शादी कर ली थी।

हालांकि परिजनों ने दोनों को दिल्ली से खोज निकाला और वापस ले आए। इसके बाद अलग करा दिया। हालांकि वह एक-दूसरे से मिलते रहे। इस पर समाज एवं जाति के आधार पर जुटे लोगों ने दोनों के परिजनों को पंचायत में बुलाया। इस पर नाराज परिजनों ने गुस्से में पुत्र-पुत्री को पहचानने से इंकार किया। वहीं युवक-युवती साथ में रहने पर अड़े थे। इस पर पंचायत ने दोनों को गांव छोड़ने का फरमान सुना दिया, जिससे वह चले गए। पियर थाना अध्यक्ष धर्मवीर भारती ने बताया कि उन्हें मामले की शिकायत नहीं मिली है। यदि किसी पक्ष से शिकायत मिलेगी तो कार्रवाई होगी।

डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय ने बताया कि अब तक किसी ने इस तरह की घटना की जानकारी नहीं दी है। प्रेमी युगल को गांव नहीं छोड़ना चाहिए। पुलिस की उन्हें मदद लेनी चाहिए। पुलिस के पास शिकायत आने के बाद ही कोई कार्रवाई होगी। वहीं इस पंचायत की सरपंच बता रही है कि मैं उस समय पंचायत से बाहर थी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *