गुजरात चुनाव में बीजेपी की जीत तय : नीतीश कुमार

सोमू कर्ण की रिपोर्ट
पटना, 4 दिसम्बर।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राहुल गांधी के कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने के फैसले पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस में टॉप पोस्ट हमेशा से एक परिवार के पास होता है, इसमें नया क्या है? ये उनकी पार्टी का अंदरूनी मामला है, अब देखना है कि वो पार्टी को कैसे चलाते हैं? राहुल गांधी को जनेऊ धारी हिंदू बताने पर तंज कसते हुए कहा कि देख लीजिए उनकी राजनीति कहां जा रही है? जो लोग जनेऊ नहीं पहन रहे हैं उन्हें कम कर आंका जा रहा है। मैं भी जनेेउ नहीं पहनता हूं। कांग्रेस बीजेपी पर आरोप लगाती है लेकिन वो खुद क्या कर रही है वो देख ले।

लोगों ने मेरा हाथ पकड़ा था, मैंने किसी का हाथ नहीं पकड़ा
नीतीश कुमार आज पटना में लोक संवाद कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से मुखातिब थे। लालू यादव का नाम लिए बिना उनपर तंज कसा और कहा कि लोगों ने मेरा हाथ पकड़ा था, मैंने किसी का हाथ नहीं पकड़ा और जब पकड़ लिया तो परेेशान करने लगने थे और हाथ छुड़ाने की कोशिश करने लगे तो मैंने भी एेसे हाथ को छोड़ दिया।

मैं 12 साल से सीएम हूं, कोई सिक्यूरिटी नहीं मिली
लालू प्रसाद की सुरक्षा में कटौती के मुद्दे पर सीएम ने कहा कि मैं पिछले 12 सालों से सीएम हूं लेकिन मुझे केंद्र से कोई सिक्यूरिटी नहीं मिली है, लेकिन केंद्र सरकार ने जब कुछ लोगों की सिक्यूरिटी कटौती कर दी तो हाय तौबा मचाया जा रहा है।

बालू का सौदा नहीं व्यवसाय होना चाहिए

बालू मामले पर सीएम ने कहा कि इस नयी नियमावली पर हाईकोर्ट से स्टे हो गया है जो पहले से व्यवस्था है वहीं लागू हैं। पूरे मुद्दे को मुख्य सचिव देख रहे हैं। इस धंधे में कुछ लोग नियम को तोड़कर पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहे थे लिहाजा इसी को ध्यान में रखकर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि बालू का सौदा नहीं होना चाहिए, इसका व्यवसाय हो।

गुजरात चुनाव में बीजेपी की जीत तय
नीतीश कुमार ने कहा कि गुजरात चुनाव में बीजेपी की ही जीत तय है। उन्होंने कहा कि गुजरात में तो कांग्रेस डरी हुई है। सीएम ने कहा कि गुजरात की धरती का बेटा देश का पीएम है और राज्य के लोग बीजेपी को छोड़कर किसी को वोट नहीं करेंगे।

कांग्रेस पर तंज कसते हुए सीएम ने कहा कि सुना है कि कांग्रेस ने भी गुजरात चुनाव में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को काफी कम टिकट दिया है। वहां अल्पसंख्यकों की जितनी संख्या है उतने लोगोें को टिकट नहीं दिया गया है। यहां तक कि इस समुदाय के लोग कांग्रेस के मंच पर भी नहीं दिख रहे हैं। चुनाव में अहमद पटेल कहीं नहीं दिख रहे हैं। आखिर कांग्रेस में इतनी घबराहट और बेचैनी क्यों है?

ट्विटर वार पर बोले नीतीश- हमने तो बस लोगों को आइना दिखाया

ट्विटर वार पर नीतीश ने कहा कि मैंने तो अपने ट्वीट में किसी का नाम भी नहीं लिया है। ना ही हमने किसी को उकसाने का काम किया है। हम कभी भी अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल नहीं करते। हमने तो लोगों को आइना दिखाने का काम किया है।

एकसाथ हों विधानसभा-लोकसभा चुनाव, लेकिन वक्त लगेगा
सीएम ने कहा कि मैं हमेशा से देश में एक चुनाव का पक्षधर रहा हूं। हरेक साल दो-तीन राज्यों में चुनाव होने से परेशानी होती है। उन्होंने कहा कि देशभर में एक साथ चुनाव कराने के लिए सहमति बनाने की जरुरत है और इसमें समय लगेगा।

लोकसंवाद के दौरान टूटी नीतीश की कुर्सी
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लोकसंवाद कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री की कुर्सी टूट गयी। इससे कार्यक्रम के दौरान कुछ देर के लिए अफरातफरी का माहौल उत्पन्न हो गया। जानकारी के मुताबिक, एक अणे मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास पर सुबह 11 बजे से लोक संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

कार्यक्रम की शुरुआत में ही अफरातफरी का माहौल उत्पन्न हो गया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जैसे ही अपनी कुर्सी पर बैठे, उनकी कुर्सी टूट गयी। हालांकि, तुरंत दूसरी कुर्सी की व्यवस्था की गयी और कार्यक्रम शुरू किया गया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *